ताजा खबर
चुनाव प्रचार के दौरान राहुल ने लिया ब्रेक, अचानक मिठाई की दुकान पर पहुंचे, गुलाब जामुन का उठाया लुत्...   ||    13 अप्रैल: देश-दुनिया के इतिहास में आज के दिन की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ   ||    अमेरिकी खुफिया विभाग का कहना है कि ईरान अगले 48 घंटों में इजरायल पर हमला करेगा   ||    रोहन गुप्ता, पूर्व कांग्रेस प्रवक्ता, बीजेपी के बढ़ते रोस्टर में शामिल हैं   ||    'नया शीत युद्ध': अमेरिका में चीनी भूमि स्वामित्व के खिलाफ बढ़ता आंदोलन   ||    मोहम्मद बिन सलमान ने सऊदी में पाक पीएम से मुलाकात की, कश्मीर मुद्दे को सुलझाने के लिए भारत-पाक वार्त...   ||    पूर्ण सूर्य ग्रहण ने उत्तरी अमेरिका को प्रभावित किया   ||    भारतीय ध्वज पर पोस्ट को लेकर विवाद के बाद मालदीव के निलंबित मंत्री ने माफी मांगी   ||    इतिहास में आज का दिन, 9 अप्रैल: इस दिन क्या हुआ था?   ||    Financial Horoscope: मां दुर्गा इन राशियों पर रहेंगी मेहरबान, कारोबार में जमकर दिलाएंगी लाभ   ||   

वाराणसी: स्वर्ग का द्वार

Photo Source :

Posted On:Tuesday, June 27, 2023

वाराणसी, भारतीय संस्कृति और धार्मिकता का एक अनुपम संगमस्थल है। यह शहर अपने अद्भुत ऐतिहासिक और सांस्कृतिक महत्व के लिए जाना जाता है।यहाँ आने वाले को अध्यात्म और आधुनिकता से जुडी सभी चीजे देखने को मिलती हैं। मान्यता हैं की काशी के कण कण में महादेव रहते हैं । इस पवित्र नगरी को "काशी" भी कहा जाता है और यहां के घाटों की दृश्यरंगी सुंदरता और भारतीय सभ्यता की अद्वितीयता को प्रशंसा करती है। यहां कुछ ख़ास है, जो आपको मोहित कर देगा।
                                                        
घाटों की सुन्दरता : वाराणसी के घाटों की सुंदरता को शब्दों में व्यक्त करना मुश्किल है। यहां बैठकर सूर्योदय और सूर्यास्त का आनंद लें, आरती की महिमा में खो जाएं और दिव्य गंगा की पवित्रता को अनुभव करें। विश्व प्रसिद्ध गंगा आरती देखने के लिए यहाँ पर्यटकों की भीड़ होती हैं।

काशी के मंदिर: वाराणसी अनगिनत मंदिरों का घर है, इसलिए इस शहर को मंदिरों का शहर भी कहाँ जाता हैं । श्री काशी विश्वनाथ मंदिर, काल भैरव मंदिर , अन्नपूर्णा मंदिर, तुलसी मंदिर, संकट मोचन मंदिर आदि यहां के मंदिर धार्मिक भक्तों को आकर्षित करते हैं। इनकी सुंदर वास्तुशिल्प और शांतिपूर्ण वातावरण अवश्य आपका मन मोह लेगा।

बाजारों की धूम: वाराणसी की सड़कों पर बिकने वाले उत्पादों और सामग्री का विविधता देखकर खुशी मिलेगी। बनारसी साड़ी, गलवानी वस्त्र, बांस की मदहोश बनी हस्तशिल्प आपके लिए सौंदर्य और आकर्षण का स्रोत बनेंगे।

गलियों की आवाज़: वाराणसी की गलियों में छुपी हुई बांसुरीवालों और कवियों की आवाज़ सुनें, गुफाओं के दरवाज़ों से निकलने वाले सुरों में खो जाएं। यहां की संस्कृति और कला का मेल आपको भारतीय संस्कृति की गहराई तक ले जाएगा। यहाँ की गली गली में आप को बनारस की छवि देखने को मिलेगी।​​​​​​​

खाना-पीना वाराणसी का स्वाद: वाराणसी में खाने का मज़ा ही कुछ और है। मालाई गिलौती, बांसल की ठण्डई, कचौड़ी-झलकी, लस्सी, ताम्बुल, पान आदि यहां के प्रसिद्ध खाद्य पदार्थ हैं। खाने का आनंद लें और वाराणसी के प्राचीन भोजन परंपराओं का आनंद उठाएं।

वाराणसी एक ऐसी जगह है जहां धार्मिकता, सभ्यता, कला और अद्भुत सुंदरता एक साथ अपनी मिसाल पेश करती हैं। इसे अपनी आंतरिक यात्रा का हिस्सा बनाएं और इंस्टाग्राम पर अपने अनुभवों को साझा करें। वाराणसी आपका मन और आत्मा को मोहने के लिए एक अद्वितीय स्थान है।


बनारस और देश, दुनियाँ की ताजा ख़बरे हमारे Facebook पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें,
और Telegram चैनल पर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें



You may also like !

मेरा गाँव मेरा देश

अगर आप एक जागृत नागरिक है और अपने आसपास की घटनाओं या अपने क्षेत्र की समस्याओं को हमारे साथ साझा कर अपने गाँव, शहर और देश को और बेहतर बनाना चाहते हैं तो जुड़िए हमसे अपनी रिपोर्ट के जरिए. banarasvocalsteam@gmail.com

Follow us on

Copyright © 2021  |  All Rights Reserved.

Powered By Newsify Network Pvt. Ltd.